हेल्थ

सर्दियों में सांस लेने में समस्या: बदलते मौसम में सांस लेने में आसानी के लिए 5 टिप्स | स्वास्थ्य समाचार

सर्दियों में सांस लेने की समस्या: बाहर कदम रखना और अपने चेहरे पर सर्द हवा का झोंका महसूस करना एक तीव्र अनुस्मारक है कि सर्दी की दुष्टता आ गई है। जो लोग अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, या क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज सहित सांस की बीमारियों से पीड़ित हैं, उनके लिए ठंडी हवा की गहरी सांस लेना खतरनाक हो सकता है।

ठंड के मौसम में आसानी से सांस लेने में आपकी मदद करने के लिए यहां 5 टिप्स दिए गए हैं:

1. अपने चेहरे को ढक कर रखें

ठंड के मौसम में बाहर जाते समय लोगों को अपने चेहरे की रक्षा करनी चाहिए और गर्म कपड़े पहनने चाहिए। यह कुछ नमी बनाए रखता है और नाक के आसपास की हवा को गर्म करने में मदद करता है। हालाँकि कुछ लोगों को अपने स्कार्फ के गीले होने पर चिढ़ होती है, लेकिन याद रखें कि आप ठंडी, शुष्क हवा के बजाय नमी में सांस ले रहे हैं।

2. अपनी नाक से सांस लें

नाक मुंह की तुलना में अधिक ह्यूमिडिफायर का काम करती है, जिससे नाक से सांस लेना मुंह से सांस लेने की तुलना में बेहतर होता है। चेहरे को ढंकने के साथ नाक से सांस लेने से सांस फूलने और सीने में जकड़न होने की संभावना काफी कम हो जाती है।

3. गहन बाहरी व्यायाम से बचें

व्यायाम से सांस लेना अधिक कठिन हो जाता है क्योंकि जब आप आराम कर रहे होते हैं तब की तुलना में यह आपके द्वारा सांस लेने वाली हवा की मात्रा को बढ़ा देता है। यदि आप दौड़ने या अन्य तीव्र बाहरी व्यायामों का आनंद लेते हैं, तो उचित कपड़े पहनें और पर्याप्त पानी पियें।

4. खुद को हाइड्रेटेड रखें

जब आप हाइड्रेटेड रहते हैं, तो आपका शरीर आपके फेफड़ों को पर्यावरण से बचाने में बेहतर ढंग से सक्षम होगा और आपका बलगम कम गाढ़ा होगा और फंसने की संभावना कम होगी। गर्म या गर्म हर्बल चाय, पानी, नींबू और कच्चे शहद की सलाह दी जाती है। एक अतिरिक्त लाभ यह है कि कैमोमाइल या पुदीना सहित कुछ चाय वायुमार्ग को आराम देने में मदद करती हैं।

5. स्वस्थ इनडोर वातावरण

लोग सर्दियों में घर के अंदर अधिक समय बिताते हैं, और ऐसे कदम हैं जो आप अपने घर के अंदर के वातावरण को श्वसन स्वास्थ्य के लिए बेहतर बनाने के लिए उठा सकते हैं। उदाहरण के लिए, अपने घर को साफ-सुथरा रखने के लिए अतिरिक्त सावधानी बरतें और एलर्जी से मुक्त रखें जैसे कि धूल जो सांस लेने में बाधा डालती है।

इसके अतिरिक्त, श्वसन की स्थिति वाले लोग आमतौर पर अपनी स्थिति को प्रबंधित करने के लिए दवाएं लेते हैं।

(अस्वीकरण: यह लेख सामान्य जानकारी पर आधारित है और किसी चिकित्सा विशेषज्ञ की राय का विकल्प नहीं है। ज़ी न्यूज़ इसकी पुष्टि नहीं करता है।)




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
en_USEnglish