इंटरनेशनल फ्लाइट्स की उड़ान पर लगी 15 जुलाई तक रोक

India halts International flights till July 15
Spread the love
India halts International flights till July 15
एयर इंडिया – फोटो @thehindu.com

डायरेक्टरेट जनरल ऑफ़ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने भारत में 15 जुलाई तक सभी वाणिज्यिक अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को स्थगित रखने का फैसला लिया है। यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय कार्गो संचालन और उड़ानों पर लागू नहीं होगा जो विशेष रूप से विमानन नियामक द्वारा पहले से ही अनुमोदित हैं।

सरकार द्वारा देश में कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए मार्च महीने के अंत में लॉकडाउन शुरू होने के समय पर सभी यात्री उड़ानों को निलंबित कर दिया गया था और पब्लिक की ज़रूरत को मद्देनजर रखते हुए घरेलू उड़ानें 25 मई से  फिर से शुरू की गयी।

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पिछले हफ्ते अपने वक्तव्य में कहा था कि भारत जुलाई में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों को फिर से शुरू करने पर फैसला लेगा, अगर कोरोनोवायरस “पूर्वानुमानित” तरीके से चलता और संपूर्ण विमानन पारिस्थिति तंत्र और राज्य सरकारें सहमत होती तो अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों का चलना तय था ।

हरदीप सिंह पुरी जी ने कहा की लोग “मुझसे अक्सर पूछते है कि आप अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड़ाने कब शुरू कर रहे  हैं? यदि यह मेरे हाथ में होता, और यदि पारिस्थितिक और विमानन तंत्र सही से काम करता, और साथ ही वायरस के व्यवहार के संदर्भ में हमें  पूर्वानुमान होता, तो मुझे लगता है कि आने वाले महीने में हमें इसे शुरू करने का निर्णय ले लेते । लेकिन यह फैसला भारतीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा नहीं लिया जाएगा । इस फैसले के लिए हमें राज्य सरकारों और घरेलू स्थिति को देखना होगा और यह फैसला राज्य सरकारों द्वारा ही लिया जाएगा।

मंगलवार को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कहा कि वह संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा भारत पर “अनुचित और भेदभावपूर्ण प्रथाओं” का आरोप लगाने और एयर इंडिया की विशेष प्रत्यावर्तन उड़ानों को प्रतिबंधित करने के बाद कुछ अंतरराष्ट्रीय वाहक उड़ानों को फिर से शुरू करने की अनुमति देने पर विचार किया गया और कुछ चुनिंदा रुट्स पर इंटरनेशनल फ्लाइट्स अपनी उडान भर सकेगी ।

डीजीसीए ने अपने परिपत्र में कहा, “हालांकि, सक्षम प्राधिकारी द्वारा चुनिंदा मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय अनुसूचित उड़ानों की अनुमति दी जा सकती है।” और एयर इंडिया और अन्य निजी घरेलू एयरलाइंस वंदे भारत मिशन के तहत अनिर्धारित अंतर्राष्ट्रीय प्रत्यावर्तन उड़ानों का संचालन कर रही हैं, जो 6 मई को केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *