नयी तैयारी और पुरानी बीमारी के बीच फसा भारत

India stuck between new preparations and chronic disease
Spread the love

अनलॉक 2.0 की तय्यारिओ के  बीच भारत में कोरोना से एक ही दिन में मरे सबसे ज्यादा मरीज

मंगलवार – 30.06.20 से एक दिन पहले जहा केंद्र सरकार ने अनलॉक 2.0 की गाइडलाइन्स जारी की वही उसके अगले ही दिन में कोरोना संक्रमण से 506 लोग मरे, जो अब तक रिकॉर्ड किए प्रतिदिन आंकड़ों में सबसे ज्यादा है I जिससे देश में मरने वालो की कुल संख्या 17,410 हो गयी है I अब तक भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 5,85,792 हो गयी है और कोरोना को हरा के जीतने वाले वीरो की 3,47,836 हो गयी है।

वही केंद्र ने सोमवार को 1 जुलाई से शुरू होने वाले अनलॉक चरण के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिए, जिसमें रात के कर्फ्यू में छूट, अधिक घरेलू उड़ानों और ट्रेनों के लिए प्रावधान किया है और एक दुकान में पांच से अधिक लोगों के लिए निकासी शामिल हैं I  हालांकि, स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थान 31 जुलाई तक बंद रहेंगे और मेट्रो रेल, मल्टीप्लेक्स, जिम, स्विमिंग पूल, बार और ऑडिटोरियम अगले आदेश तक बंद रहेंगे।

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के निर्देशानुसार, कन्टेनमेंट जोन के बाहर के क्षेत्रों में अधिक गतिविधियों की अनुमति दी गई है और जो क्षेत्र कन्टेनमेंट जोन के अंदर आते है वहा लॉकडाउन को 31 जुलाई तक बढ़ा दिया गया है।

निर्देशित गाइडलाइन्स के अनुसार राज्य अपनी आवश्यकतानुसार अधिक प्रतिबंध लगाने के लिए स्वतंत्र हैं, हालांकि वे सीमाओं को सील नहीं कर सकते हैं और वंदे भारत मिशन के तहत अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा को एक सीमित तरीके से अनुमति दी जाएगी और इसे आगे खोलने के लिए एक कैलिब्रेटेड तरीके से काम किया जाएगा।

रात के कर्फ्यू में छूट देते हुए कहा गया है की रात का कर्फ्यू 9 बजे के बजाय रात्रि 10 बजे से सुबह  5 बजे तक रहेगा और सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते हुए और दुकान के आकार और क्षमता के आधार पर अब एक समय में पांच से अधिक व्यक्ति रह सकते हैं।

शैक्षिक संस्थानों जैसे स्कूल, कॉलेज और कोचिंग को अभी 31 जुलाई तक बंद रखा जाएगा। वही केंद्र और राज्य दोनों सरकारों के प्रशिक्षण संस्थानों को 15 जुलाई से कार्य करने की अनुमति मिल गयी है। आदेश के अनुसार, “इस संबंध में भारत सरकार के कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग द्वारा एसओपी जारी किया जाएगा।”

दिल्ली जैसे राज्यों के अनुरोध के बावजूद, केंद्र ने मेट्रो सेवाओं के संचालन पर रोक लगाए रखी है। उसी तरह सिनेमा हॉल, व्यायामशाला, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम और इसी तरह के स्थान भी बंद रहेंगे अगले आदेश तक।

इसके अलावा “सामाजिक / राजनीतिक / खेल / मनोरंजन / शैक्षणिक / सांस्कृतिक / धार्मिक कार्य और अन्य बड़ी मण्डलिओ” वाले  कार्यो पर भी निषेद्य रहेगा। दिशानिर्देशों में कहा गया है कि , “उपरोक्त गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए तिथियां अलग से तय की जा सकती हैं और आवश्यक एसओपी भी होंगे।”

कंटेनमेंट जोन में जुलाई के अंत तक लॉकडाउन का विस्तार करते हुए, दिशानिर्देश दिए गए जिसमे कहा गया हैं कि, “ कोरोना वायरस का ट्रांसमिशन प्रभावी ढंग से तोड़ने के उद्देश्य से स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) के दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए जिला अधिकारियों द्वारा कंटेनमेंट ज़ोन का सीमांकन किया जाएगा।” साथ ही इन जोन में  गहन संपर्क ट्रेसिंग, घर-घर में निगरानी और अन्य क्लीनिकल ​​हस्तक्षेप आवश्यकतानुसार की जाएगी । बाकी पहले की ही तरह मास्क पहनने, कार्यस्थल पर अपेक्षित दूरी और उपाय के अलावा आरोग्य सेतु ऐप के उपयोग को पूर्व की तरह रखा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *