भड़काऊ फेसबुक पोस्ट के चलते हुई बेंगलुरु में तीन लोगो की मौत

FACEBOOK POST LEADS TO DEATH OF 3 PERSONS IN BENGALURU VOILENCE
Image courtesy: HT News

बुधवार,12 अगस्त, 2020 – बेंगलुरु में लोगो की भीड़ ने मंगलवार रात पुलकेशी नगर में तोड़फोड़ की और एक पुलिस स्टेशन और कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आवास पर तोड़फोड़ कर क्षति पहुचायी , जिसका मुख्य कारण राजनेता के रिश्तेदार द्वारा फेसबुक पर किया गया एक अपमानजनक पोस्ट था।

एक फेसबुक(Facebook) पोस्ट(Post) पर उठे बवाल की वजह से बेंगलुरु(Bengaluru) में हिंसा(Violence) में 3 की मौत(Death) हो गयी समाचार एजेंसी ANI के अनुसार, हिंसा के सिलसिले में 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। करीब 60 पुलिस कर्मियों को भी चोटें आईं है।

अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों ने कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति, डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस स्टेशनों के घर पर पथराव किया। कांग्रेस विधायक से जुड़े बताए जा रहे युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मरने वाले तीन लोगों में दो की पहचान वाजिद खान (20) और यासीन पाशा (20) के रूप में हुई है। तीसरा व्यक्ति अज्ञात है। बॉरिंग अस्पताल के मुर्दाघर में फिलहाल शव रखे हुए हैं क्योंकि परिवार के सदस्यों को सौंपने से पहले अधिकारी कोविद -19 परीक्षण और पोस्टमार्टम करेंगे।

पुलिस के अनुसार भड़की भीड़ ने पहले पुलकेशी नगर में तोड़फोड़ की और फिर डीजे होली पुलिस स्टेशन में तोड़फोड़ की और फिर पूर्व राजनेता, कांग्रेस विधायक के आवास पर भी हमला किया और वहां खड़े वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया। प्रदर्शनकारियों द्वारा कई वाहनों को आग लगा दी गई।

पुलिस को हिंसक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज, आंसू गैस और गोलीबारी का सहारा लेना पड़ा।भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस कमिश्नर मौके पर गए। जगह-जगह पुलिस बंदोबस्त किया गया । बेंगलुरु पुलिस ने ट्विटर पर पोस्ट किया कि, उन अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि अपराधियों के खिलाफ निर्देश जारी किए गए हैं और आश्वासन दिया है कि सरकार इस स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए हर संभव कदम उठा रही हैं। पत्रकारों, पुलिस और जनता पर हमला अस्वीकार्य है। सरकार ऐसे उकसावों और अफवाहों को बर्दाश्त नहीं करेगी। अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई निश्चित है।

राज्य के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने एक वीडियो संदेश जारी किया है जिसमें लोगों से कानून अपने हाथ में नहीं लेने की अपील की गई है। उन्होंने कहा कि स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए पुलिस को फ्री हैंड दिया गया है और “मैं अपने मुस्लिम भाइयों से अपील कर रहा हूं कि हमें कुछ उपद्रवियों द्वारा की गई गलती के लिए हिंसा का सहारा नहीं लेना चाहिए। लड़ने की कोई जरूरत नहीं है। हम सब भाई हैं।” हम कानून के अनुसार व्यक्ति को दंडित करेंगे। हम भी आपके साथ रहेंगे। मैं मुस्लिम दोस्तों से शांत रहने की अपील करता हूं।

एहतियात के तौर पर प्रशासन ने शहर में सीआरपीसी की धारा 144 और डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थानों की सीमा में कर्फ्यू लगा दिया है।कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री BZ ज़मीर अहमद खान ने हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। “मुझे उम्मीद है कि पुलिस उन सभी के खिलाफ कार्रवाई करेगी जो इसके लिए जिम्मेदार हैं। मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि वे शांत रहें और क्षेत्र में शांति बनाए रखें।

बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपी नवीन को गिरफ्तार कर लिया गया है जो पूर्व । उन्होंने सोशल मीडिया साइट पर कथित रूप से अपमानजनक पोस्ट शेयर किया था। 

One thought on “भड़काऊ फेसबुक पोस्ट के चलते हुई बेंगलुरु में तीन लोगो की मौत

  1. बंनंगलुरू में हिंसा के दौरान की गई नुकसान पर यूपी के तर्ज पर वसूली की
    जानी चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *