Karwa Chauth 2020: पतियों की लम्बी उम्र के लिए पत्नियां रखेगी आज व्रत, पाइये सारी जानकारी

Karwa Chauth 2020 : करवा चौथ उत्तरी भारत का एक मुख्य हिंदू त्यौहार है, जो इस वर्ष आज यानि 4 नवंबर को मनाया जाएगा।

Karwa Chauth 2020
This festival is the symbol of love between husband and wife, pic @gifola.com
Karwa Chauth 2020 : Important Timings

शुभ महूर्त – करवा चौथ पूजा मुहूर्त शाम 5:34 बजे से शाम 6:52 बजे तक है, और करवा चौथ व्रत या उपवास या उपवास का समय सुबह 6:35 बजे से रात 8:12 बजे तक है। 4 नवंबर को चंद्रमा रात 8:12 बजे उदय होगा। चतुर्थी तिथि 4 नवंबर को सुबह 3:24 से शुरू होकर 5 नवंबर को 5:14 बजे समाप्त होगी।

Karwa Chauth 2020 : Significance

इस पर्व कि महत्ता भारतीय शादी शुदा जोड़ो के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण होती है और इस त्यौहार को विवाह के उत्सव के रूप में मनाया जाता है। जिसके दौरान पत्नियां अपने पति के लिए दिन भर उपवास रखती है और उसके लिए लिए अच्छे स्वास्थ्य और लंबी उम्र की कामना करती है।

हिंदू कैलेंडर के हिसाब से करवा चौथ कार्तिक महीने के दौरान कृष्ण पक्ष चतुर्थी चरण में होता है। वही करवा चौथ एक और महत्वपूर्ण त्योहार, संकष्टी चतुर्थी के साथ भी आता है, जो भगवान गणेश के सम्मान में एक उपवास का दिन रख कर मनाया जाता है।

Karwa Chauth 2020 : Pooja Vidhi

करवा चौथ पर महिलाएं सूर्योदय से अपना उपवास शुरू करती हैं और पानी की एक बूंद भी नहीं पीती हैं, जब तक कि वे रात में चंद्रमा को नहीं देखती हैं तब तक अपना व्रत नहीं तोड़ती एक बार चाँद उगने के बाद पूजा कर के ही पहले पति के हाथो पानी पी और फिर भोजन कर अपना दिन भर का व्रत तोड़ती है ।

Karwa Chauth 2020 : How it is celebrated at different part of country

यह त्यौहार नार्थ इंडिया के कई प्रमुख राज्यों (जैसे उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरयाणा,दिल्ली आदि) में अलग-अलग तरीके से मनाया जाता है, लेकिन हम इसकी लोकप्रियता बॉलीवुड में भली भांति देख सकते है, जिसमे हीरोइन दिन में उपवास करती है, नए सुहागन के कपड़े पहनती हैं और अपने हाथों पर मेहंदी लगाती हैं, और फिर जब चाँद उगता है तो वे छलनी के माध्यम से चाँद देखती है और फिर छलनी के माध्यम से अपने पतियों को देखती है ।

फिर अपने पति द्वारा भोजन खा और पानी पिलाया जाता है। हालांकि, वास्तव में परंपराएं थोड़ी भिन्न होती हैं, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में, महिलाएं अपने बीच करवा नामक बर्तन को पानी में या एक छलनी के माध्यम से देखती हैं, इसके बाद वे चंद्रमा को जल चढ़ाती हैं। पति फिर अपनी पत्नी को पानी देता है जिसके बाद वह अपना उपवास तोड़ती है और खाती है।

Also Read : 5 foods to fight against BP and Diabetes

वही दूसरी ओर आंध्र प्रदेश में त्योहार को अताला तादे के रूप में मनाया जाता है, महिलाएं पारंपरिक कपड़ों में सजती हैं, मेहंदी और सिंदूर लगाती हैं जो उनकी शादी की स्थिति का प्रतीक है। उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में, महिलाएं एक साथ मिल कर करवा चौथ कथा सुनती हैं और हर्षोउल्लाष से एक साथ मानती है ।

3 thoughts on “Karwa Chauth 2020: पतियों की लम्बी उम्र के लिए पत्नियां रखेगी आज व्रत, पाइये सारी जानकारी

  1. it is highly appreciable that the team of Janawaznews is making good efforts to make the viewers familiar with the diversified culture and festivals of India.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *